कांग्रेस नेता राहुल गांधी लगातार मोदी सरकार पर आक्रमक रुख अपनाए रहते है। कोई एक भी मौका नहीं छोड़ते। अब राहुल गांधी ने शिकागो युनिवर्सिटी के छात्रों और प्रोफ़ेसर से बातचीत करते हुए वंशवाद को लेकर कहा की पिछले 30-35 साल से हमारे परिवार में कोई भी सदस्य प्रधानमंत्री नहीं बना। ना ही उनके परिवार का कोई भी सदस्य स्प्रंग सरकार ने मंत्री रहा।

राहुल ने शिकागो युनिवर्सिटी के प्रोफेसर दीपेश चक्रवर्ती से बातचीत करते हुए कई मुद्दों पर बात की और राहुल ने नरेंद्र मोदी पर सपने बेचने का आरोप लगाया।

वंशवाद से जुड़े सवाल पर राहुल गांधी ने कहा “मेरे परिवार से आखिरी बार 30-35 साल पहले प्रधानमंत्री बने थे। मनमोहन सरकार में भी मेरे परिवार से कोई भी सदस्य शामिल नहीं था। उन्होंने कहा की ” मैं कुछ मूल्यों के लिए लड़ता हूं आप ये नहीं कह सकते कि मैं राजीव गांधी का पुत्र हूं तो मैं इन मूल्यों के लिए क्यों नहीं लड़ सकता”

वही लोकतंत्र से जुड़े सवाल पर राहुल गांधी ने कहा की आधुनिक युग में महात्मा गांधी, बाबा साहेब आंबेडकर, जवाहर लाल नेहरू, मौलाना आजाद जी कुछ विचार दिए थे की भारतीय लोकतंत्र कैसा होना चाहिए।

वही दुनिया के विभिन्न देशों में शक्तिशाली नेता के रूप में उभरने के बारे में पूछे जाने पर राहुल ने कहा कि लोगों की परेशानी के बीच कोई नेता आता है और कहता है कि वह हर समस्या का समाधान करेगा लेकिन वह समस्या का समाधान नहीं कर पाता है।