ऐसा लग रहा हैं की किसान आंदोलन का असर अब मुकेश अम्बानी पर गहरा असर पड़ा हैं. जैसा की किसान लगातार जिओ के टावर को तोड़ रहे हैं वही किसान अम्बानी के प्रोडक्ट का भी विरोध कर रहे हैं।

वही एक रिपोर्ट सामने आया हैं जिसमे कहा गया की रिलायंस का मार्केट कैप 1245869.56 करोड़ रुपये है जबकि टीसीएस का मार्केट कैप 1170875.36 करोड़ रुपये है। यानी टीसीएस का मार्केट कैप रिलांयस से केवल करीब 75 हजार करोड़ रुपये कम रह गया है।

एक समय रिलायंस का मार्केट कैप 16 लाख करोड़ रुपये को पार कर गया था लेकिन उसके बाद से इसमें लगातार गिरावट आई है। दूसरी ओर टीसीएस के शेयरों में हाल में काफी तेजी आई है और यह अपने ऑल टाइम हाई पर पहुंच गया था। अभी यह उससे कुछ ही नीचे है।

Bloomberg Billionaire Index के मुताबिक अंबानी के नेटवर्थ इस समय 73.4 अरब डॉलर (करीब 5.36 लाख करोड़ रुपये) है जबकि पिछले साल उनकी नेटवर्थ 90 अरब डॉलर (6.62 लाख करोड़ रुपये) पहुंच गई थी। अगस्त 2020 में वह दुनिया को अमीरों की सूची में चौथे नंबर पर पहुंच गए थे। लेकिन रिलायंस के शेयरों में हाल में आई गिरावट से उनकी नेटवर्थ गिरी है। इसके साथ ही वह दुनिया के अमीरों की सूची में 13वें नंबर पर फिसल गए हैं।

रिलायंस ने पिछले साल फ्यूचर ग्रुप के रीटेल और होलसेल बिजनस को खरीदने की घोषणा की थी। तब कंपनी का शेयर 2369.35 रुपये के उच्चतम स्तर पर पहुंच गया था। कंपनी का बाजार पूंजीकरण भी 16 लाख रुपये को पार गया था। पिछले तीन महीनों में रिलायंस का शेयर करीब 14 फीसदी गिर चुका है। अभी इसकी कीमत 1933.05 रुपये है। अभी रिलायंस का मार्केट कैप 1245869.56 करोड़ रुपये है।